प्रदेश में शुरू हुआ रिवर्स पलायन, प्रदेश से प्लान कर चुके लोग बड़े-बड़े शहरो को छोड़ अपने घरों को आ रहे है वापस , 23 सालों में प्रदेश में हुआ काफी विकास : भगत सिंह कोश्यारी पूर्व मुख्यमंत्री उत्तराखंड

मसूरी : मसूरी पहुंचे उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी का भाजपा कार्यकर्ताओं ने फूल माला और शाल भेंट कर स्वागत किया। भगत सिंह कोश्यारी ने सभी कार्यकर्ताओं का आभार जताते हुए सभी कार्यकर्ताओं को पार्टी को मजबूत करने का आह्वान किया। वही पत्रकारों से वार्ता करते हुए भगत सिंह कोश्यारी ने कहा कि आज उत्तराखंड का स्थापना दिवस है जो एक सौभाग्य का दिन है। अमर शहीदों के बलिदान , उत्तराखंड के जन-जन के सहयोग और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई के कारण की अनुकंपा से 2000 में उत्तराखंड का राज्य मिला। उन्होंने कहा कि 2000 में उत्तराखंड जो था अब उससे कहीं आगे बढ़ चुका है। गांव-गांव में सड़के बन चुकी हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व में अपने विधानसभा क्षेत्र में जाते थे गढ़वाल से अपने क्षेत्र में पहुंचने में 7 दिन लगते थे और आज हर गांव में सड़क का निर्माण हो चुका है। पिछले 23 सालों में प्रदेश में काफी विकास हुआ है। उन्होंने कहा ऑल वेदर रोड के तहत प्रदेष में फोरलेन सडकों का निर्माण कराया जा रहा है। चारों धाम का पुनर्निर्माण किया जा रहा है । उन्होने कहा कि वर्तमान में प्रदेश के अंदर आम जनता में स्वरोजगार के प्रति जागरूकता आई है और अब प्रदेश से पलायन कर चुके लोग बड़े-बड़े शहरों को छोड़कर गांव की तरफ आ रहे हैं। रिवर्स पलायन शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि सरकार भी गांव को विकसित किए जाने को लेकर विभिन्न योजनाओं के तहत लोगों के हाथों को मजबूत कर रही है। प्रदेश में सरकार ने हॉर्टिकल्चर के लेकर ही 800 करोड रुपए दिये गए है। इससे कल्पना की जा सकती है कि केंद्र में मोदी जी और प्रदेश में पुष्कर सिंह धामी की सरकार प्रदेश और देश को प्रकृति के चरम पर पहुचाना चाहती है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगला दशक उत्तराखंड का और उनको भी पूरा विश्वास है कि अगला दर्शन उत्तराखंड का ही होगा। उन्होंने कहा कि उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन में बहुत उतार चढ़ाव देखे हैं और अब उनको पूरी उम्मीद है कि अगला दशक उत्तराखंड का ही होगा।

Ad Ad
Ad

सम्बंधित खबरें